पाकिस्तान में स्वीमिंग पूल में नहाने से खौफ खा रहे लोग, इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, लाहौर में पहला मरीज

पाकिस्तान में स्वीमिंग पूल में नहाने से खौफ खा रहे लोग, इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, लाहौर में पहला मरीज

लाहौर पाकिस्तान में शहर में खतरनाक अभी लमलेरिया का पहला मामला सामने निकल कर आ रहा है हेल्थ स्पोर्ट्स के द्वारा लोगों को उन फूलों में तैरने से परहेज करने की चेतावनी दिया रहा है है जिनका ठीक से कोई लोरी नहीं करण नहीं किया गया हो।

लाहौर के मलेरिया के पहले मामले की एक प्रयोगशाला के द्वारा किया गया था के शिकार हुए 30 साल के एक मरीज के शरीर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था और पाकिस्तान में समा टीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक हॉस्पिटल के पिछले 4 दिनों से समेत कई लक्षण थे।

नेगलेरिया फाउलेरी (Naegleria fowleri) एक मुक्त-जीवित अमीबा है, जो प्राइमरी अमीबिक मेनिंगोएन्सेफलाइटिस (primary amebic meningoencephalitis-PAM) का कारण बनता है. ये केंद्रीय तंत्रिका तंत्र की एक बीमारी है. नेगलेरिया फाउलेरी अमीबा एककोशिकीय जीवित जीव (Single-Celled Living Organism) है. ये मिट्टी और गर्म ताजे पानी जैसे- झीलों, नदियों और गर्म झरनों में रहता है. इसे आमतौर पर ‘दिमाग खाने वाला अमीबा’ कहा जाता है. क्योंकि जब यह अमीबा पानी के जरिये नाक में जाता है तो यह ब्रेन में संक्रमण का कारण बन सकता है. अमेरिका जैसे देश में हर साल केवल तीन लोग इससे संक्रमित होते हैं. मगर ये संक्रमण आमतौर पर घातक होते हैं.

 

डॉक्टर ने यह भी कहा कि मैं गुलेरिया मामले के बारे में इतिहास का पता लगाया जा रहा है कि यह लग्न एरिया के मामले में विशेषज्ञों ने डॉक्टर की एक टीम का न्यूनतम किया गया है डॉक्टर हक ने कहा है कि मरीज के इलाज के लिए एक बोर्ड का गठन किया जाएगा गौरतलब है कि इससे पहले पाकिस्तान में कराची शहर में नग लेरिया के कई मामले सामने आए थे बल्कि हेल्थ रिपोर्ट का मानना यह भी है कि नागिन एरिया के मामले अन्य शहरों में भी हो सकता है मगर कम टेस्ट होने के कारण वह रिपोर्ट को नहीं दिखाते हैं हालांकि उन्होंने इस बात पर जोर दिया है सावधानी बरतने के लिए इस बीमारी को रोका जा सकता है

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share करो